Home पॉलिटिक्स Rajnath Singh बोले- भारत नहीं सॉफ्ट टारगेट, अब 26/11 जैसा हमला नामुमकिन

Rajnath Singh बोले- भारत नहीं सॉफ्ट टारगेट, अब 26/11 जैसा हमला नामुमकिन

नई दिल्ली। सीमा पर दो मुल्कों के साथ जारी विवाद के बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Defense Minister Rajnath Singh ) ने गुरुवार को भारत की आतंकवाद (Terrorism ) से निपटने की नई नीति के बारे में खुलकर बात की। उन्होंने भारत की आतंकवाद को लेकर हमेशा से ही जीरो टोलरेंस ( Zero tolerance ) की नीति रही है, जो आगे भी जारी रहेगी। रक्षा मंत्री ने कहा कि चीन के साथ सीमा पर जारी तनातनी को निपटा लिया गया है। राजनाथ सिंह ने इस दौरान पश्चिम बंगाल ( West bengal ) में भारतीय जनता पार्टी ( BJP) की पूर्ण बहुमत की सरकार बनने का भी दावा किया।

बिहार के बाद अब BJP की GHMC चुनाव पर नजर, शाह, नड्डा और योगी संभालेंगे कमान

भारत ने चीन के साथ कई दौर बातचीत

राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत अब सॉफ्ट टारगेट नहीं रहा। भारतीय जनता पार्टी की सरकार में भारत ने एक बहुत बड़े बदलाव को आत्मसात किया है। यह राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर बनाई गई भाजपा सरकार की नीतियों का परिणाम है कि अब कोई भारत में दोबारा 26/11 जैसे हमले को अंजाम देने के बारे में नहीं सोच सकता। आपको बता दें कि आज ही के दिन यानी 26 नवंबर 2008 को मुंबई में बड़ा आतंकी हमला हुआ था, जिसमें सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी। रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत ने चीन के साथ कई दौर बातचीत की है, और सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में अभी वार्ता क क्रम जारी रहेगा। उन्होंने का कि वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) पर चीन के साथ लंबे समय से लंबे समय से तनातनी चल रही है, लेकिन इस सीमा विवाद से जुड़े मुद्दे तब देखने को मिलते हैं, जब हम प्रोटोकॉल तोड़ने को राजी हो जाते हैं।

संप्रभुता के साथ कोई समझोता नहीं

राजनाथ सिंह ने भरोसा दिलाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शासनकाल में सीमा, आत्मसम्मान और संप्रभुता के साथ कोई समझोता नहीं किया जाएगा। उन्होंने सीमा विवाद सुलझाने के क्रम में भारत और चीन ने आठ राउंड की वार्ता की है और जल्द ही शांति बहाली के लिए दूसरे दौर की वार्ता का भी आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों दोनों देशों के बीच 6 नवंबर को चुशूल में वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की एक बैठक रखी गई थी, जिसमें विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव नवीन श्रीवास्तव ने भी हिस्सा लिया था। इस बात को सात महीने हो गए हैं, जब एलएसी के लद्दाख सेक्टर में दोनों देशों ने सैकड़ों सैनिकों और रक्षा वाहनों को तैनात किया था। हाल ही में आई रिपोर्ट से पता चला है कि अब दोनों ही देश LAC पर सैनिकों को पीछे हटाने के लिए राजी हुए हैं।

Delhi-NCR से उत्तराखंड आने वालों की होगी Corona Test, पॉजिटिव को नहीं मिलेगा प्रवेश

बंगाल चुनाव में भाजपा को बहुमत मिलना तय

राजनाथ सिंह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में अगले साथ विधानसभा चुनाव होने हैं, जिसमें भारतीय जनता पार्टी की जीत पक्की है। उन्होंने कहा कि बंगाल चुनाव में भाजपा को बहुमत मिलना तय है। इस दौरान राजनाथ सिंह ने केंद्र द्वारा लाए गए तीन किसान बिलों के विरोध में किसानों के विरोध प्रदर्शन का भी जिक्र किया। उन्होंने शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि किसानों को समझना चाहिए कि ये कानून छोटे व मझोले किसानों के हित के लिए ही लाए गए हैं।

 







Most Popular