Friday, November 27, 2020

मामूली मतभेदों, विवादों का समाधान बातचीत के जरिए हो: चिनफिंग ने जी20 सम्मेलन में कहा

डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।

| Updated: 21 Nov 2020, 11:32:00 PM

(के जे एम वर्मा) बीजिंग, 21 नवंबर (भाषा) चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शनिवार को कहा कि उनका देश आपसी सम्मान, समानता और पारस्परिक लाभ के आधार पर सभी देशों के साथ शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व को आगे बढ़ाने के लिए तैयार है, और साथ ही उन्होंने बातचीत के जरिए मतभेदों को सुलझाने और विवादों को हल करने का सुझाव दिया। चिनफिंग ने सऊदी अरब के किंग सलमान द्वारा आयोजित आभासी जी20 शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि चीन हमेशा वैश्विक शांति का निर्माता, वैश्विक विकास में योगदान करने वाला और अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था का रक्षक रहेगा। उन्होंने आगे कहा,

 

(के जे एम वर्मा) बीजिंग, 21 नवंबर (भाषा) चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शनिवार को कहा कि उनका देश आपसी सम्मान, समानता और पारस्परिक लाभ के आधार पर सभी देशों के साथ शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व को आगे बढ़ाने के लिए तैयार है, और साथ ही उन्होंने बातचीत के जरिए मतभेदों को सुलझाने और विवादों को हल करने का सुझाव दिया। चिनफिंग ने सऊदी अरब के किंग सलमान द्वारा आयोजित आभासी जी20 शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि चीन हमेशा वैश्विक शांति का निर्माता, वैश्विक विकास में योगदान करने वाला और अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था का रक्षक रहेगा। उन्होंने आगे कहा, ‘‘चीन आपसी सम्मान, समानता और पारस्परिक लाभ के आधार पर सभी देशों के साथ शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व और साझा विकास के लिए तैयार है।’’ पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच छह महीने से अधिक लंबे सैन्य गतिरोध की पृष्ठभूमि में चिनफिंग ने कहा, ‘‘हम बातचीत के जरिए मतभेदों को दूर कर सकते हैं, बातचीत के माध्यम से विवादों को हल कर सकते हैं और विश्व शांति तथा विकास के लिए एक संयुक्त प्रयास कर सकते हैं।’’ सऊदी अरब इस साल जी20 की अध्यक्षता कर रहा है और इस आभासी शिखर सम्मेलन का मेजबान है, जिसमें अमेरिका, चीन, भारत, तुर्की, फ्रांस, ब्रिटेन और ब्राजील जैसी दुनिया की सबसे विकसित अर्थव्यवस्थाओं के नेता एक साथ आ रहे हैं। इस आभासी सत्र का आयोजन शनिवार और रविवार हो रहा है और इसमें शामिल होने वालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हैं। चिनफिंग ने कोविड-19 से संयुक्त रूप से लड़ने का आह्वान किया और कहा कि जी20 के सदस्यों को इसमें विशेष भूमिका निभानी है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें पहले अपने देश में बीमारी को नियंत्रण में रखना चाहिए और उस आधार पर जरूरतमंद देशों की मदद करने के लिए सहयोग को मजबूत करना चाहिए।’’ पिछले साल चीन के वुहान से शुरू हुई कोविड-19 महामारी की चपेट में दुनिया भर के 5.77 करोड़ लोग आ चुके हैं, और 13.76 लाख से अधिक लोग मारे गए हैं। चिनफिंग ने कहा कि कई जी20 सदस्यों ने वैक्सीन के शोध और उत्पादन में उल्लेखनीय प्रगति की है। साथ ही उन्होंने कहा कि टीकाकरण का काम भेदभाव के बिना और कुशलतापूर्वक करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन का समर्थन करना चाहिए।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुक पेज लाइक करें

Most Popular

मानुषी छिल्लर की इस वायरल तस्वीर पर आया फैन्स का दिल, बोले- मुझे भी ऐसी ही हैट चाहिए

मानुषी छिल्लर अक्सर अपनी तस्वीरों और फोटोशूट के कारण चर्चा में रहती हैं। एक बार फिर से मानुषी ने इंस्टाग्राम पर अपनी नई...

Corona: दिल्‍ली में 12 दिन बाद मौतों का आंकड़ा सबसे कम, सामने आए इतने नए मरीज

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) में एक दिन में COVID-19 के 5,475 नये मामले सामने आए, वहीं 91 और लोगों की कोरोना संक्रमण (Corona Virus)...

UP: कांग्रेस कार्यालय से करते थे बिजली चोरी, पार्टी ने काटा कनेक्शन तो दफ्तर पर ताला लगा आए अवैध कब्जेदार

लखनऊउत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय प्रशासन द्वारा अपने घरों की बिजली काटे जाने से नाराज लोगों ने गुरुवार को दफ्तर के मुख्य द्वार पर कुछ...

टाईटल वॉर: करन जौहर ने मांगी माफी लेकिन नहीं बदलेंगे टाईटल, मधुर भंडारकर बोले- माफी स्वीकार मगर मेरी उम्मीद कुछ और थी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐपएक घंटा पहलेकॉपी लिंकमुधर भंडारकर और करन जौहर, फोटो- गैटी इमेज...